इसमें तो कोई शक नहीं की मथुरा और वृन्दावन की ब्रज क्षेत्र होली के विश्व विख्यात है। मथुरा की होली देखने के लिए और यहां पर होली खेलने के लिए अपने देश भर से ही नहीं बल्कि विदेश से भी लाखों की संख्या में पर्यटक हर साल होली पर मथुरा आते हैं। मथुरा के ब्रज क्षेत्र में होली का त्यौहार लगभग एक महीने तक मनाया जाता है लेकिन लगभग 10 दिनों में मनाये जाने वाले होली के कार्यक्रमों की भव्यता दर्शकों और सैलानियों का मन मोह लेती है। होली के मुख्य कार्यक्रम नंदगाव, बरसाना, गोकुल, मथुरा, वृन्दावन और बलदेव में होते हैं जिनको हिंदू धर्म के पंचांग के अनुसार पहले से ही तय कर लिया जाता है।

Holi In Barsana, बरसाना में होली
Holi In Barsana (बरसाना में होली)
अगर आप साल 2019 में ब्रज की होली का आनंद उठाने की सोच रहे हैं और मथुरा आने का प्लान कर रहे हैं तो इसमें यह कार्यक्रम की सूची आपकी बहुत मदद करेगी। 

मथुरा / ब्रज में होली 2019 का कार्यक्रम (Holi 2019 Schedule in Mathura / Braj)

वर्ष 2019 में ब्रजभूमि (Braj / Mathura) के प्रमुख फाग महोत्सव की सूची इस प्रकार है।

Holi In Barsana, बरसाना में होली
Holi In Barsana (बरसाना में होली)

  • 14 मार्च : नंदगाँव (Nandgaon) फाग आमंत्रण उत्सव
  • 14 मार्च : बरसाना (Barsana) लड्डू होली
  • 15 मार्च : बरसाना (Barsana) लठामार होली
  • 16 मार्च : नंदगाँव (Nandgaon) लठामार होली
  • 17 मार्च : श्रीकृष्ण जन्मभूमि, मथुरा (Sri Krishna Janmbhumi, Mathura) की होली
  • 17 मार्च : बांके बिहारी मंदिर, वृन्दावन (Banke Bihari Mandir, Vrindavan) की होली
  • 18 मार्च : छड़ीमार होली गोकुल (Gokul)
  • 20 मार्च : होलिका दहन , फालैन का पंडा
  • 20 मार्च : चतुर्वेदी समाज का डोला होलीगेट, मथुरा (Holi Gate, Mathura)
  • 21 मार्च : द्वारिकाधीश (Dwarikadheesh Temple, Mathura) होली,चतुर्वेदी समाज का डोला मथुरा 
  • 22 मार्च : दाऊजी (Dauji Temple, Baldeo) का हुरंगा, जाव का हुरंगा, नंदगाँव (Nandgaon) का हुरंगा।
  • 22 मार्च : मुखराई का चरकुला नृत्य
  • 23 मार्च : बठैन का हुरंगा, गिडोह का हुरंगा
Holi In Barsana, बरसाना में होली
Holi In Barsana (बरसाना में होली)
आप इन सभी तारीखों पर ऊपर दिए गए स्थलों, गांवों में पहुंचकर बृज की प्राचीन एवं परम्परागत होली का आनंद प्राप्त कर सकते हैं।


loading...

Post a Comment